ड्रैगन की हार #ColgateMagicalStories

इस पोस्ट में कोलगेट द्वारा आयोजित मैजिकल कैसल और तीन टूथ पेस्ट के सेट से निकले पात्रों को ध्यान में रखते हुए एक कहानी बुनना था. इन तीनों सेट में कैसल, रॉयल फॅमिली तथा ड्रैगन और टावर से सम्बंधित चित्र थे जिन्हें काटकर कोई कहानी बनानी थी. उन पात्रों का एक विडियो भी बनाना था, जिसे बनाना बहुत मुश्किल था. खैर मोबाइल द्वारा विडियो बनाने का प्रयास किया गया है, यह अब आपके ऊपर है कि यह आपको कैसा लगता है.

   

कहानी : जैसा कि मेरी बिटिया ने कहानी बनाया, उसे मैं यहाँ शेयर कर रही हूँ. राजनगर के राजा रिपुदमन अपने जादुई किले में अपने परिवार के साथ सुखपूर्वक राज कर रहे थे. राजा को दो बच्चे थे – राजकुमारी और राजकुमार. महल में सेवा के लिए बहुत सारे नौकर चाकर और सुरक्षा के लिए सिपाही थे.
पड़ोस के राज्य का राजा रिपुदमन से ईर्ष्या करता था. वह सीधी लड़ाई में रिपुदमन को पराजित नहीं कर सकता था, इसलिए उसने जादूगरनी (विच) और ड्रैगन को भेजा. जादूगरनी ने अपनी जादू से राजकुमारी को पास के टावर की दूसरी मंजिल पर बंदी बना लिया और टावर की सुरक्षा के लिए ड्रैगन को लगा दिया. ड्रैगन बहुत शक्तिशाली था. उसे हराना लगभग नामुमकिन था. लेकिन राजकुमारी बहुत होशियार थी. उसने जादूगरनी और ड्रैगन को बात करते हुए सुन लिया था कि राजकुमारी के बदले राजा से उसका राज मांग कर राजा को कंगाल बना देना है. उसने कुछ अन्य बातचीत भी सुना. इस बारे में राजकुमारी सन्देश  पने भाई तक पहुँचाना चाहती थी लेकिन कैसे? वह तो कैद थी. फिर राजकुमारी के मन में एक विचार आया. उसने अपने दुपट्टे के एक कोने में एक कागज के टुकड़े में कुछ लिखकर टावर से नीचे फेंका. उसी रास्ते से मालिन राजा के यहाँ फूल देने जाया करती थी. उसने राजकुमारी के दुपट्टे को पहचान लिया और सारी बात राजा को जाकर बताई.  राजकमार ने दुपट्टे से कागज का टुकड़ा खोला और उसमें लिखा सन्देश पढ़ा तो वह हँसने  लगा. राजा ने पूछा – ‘हँस क्यों रहे हो राजकुमार?’ राजकुमार बोला – नहीं कुछ नहीं, आप चिंता मत कीजिये. मैं ड्रैगन को हराकर राजकुमारी को अकेले ले आऊंगा.”
“पर कैसे”
‘यह बाद में बताऊंगा.’
अगले दिन सुबह सुबह राजकुमार अपने दो वफादार सिपाही को लेकर टावर की ओर चला. राजकुमार को आते देख ड्रैगन उसकी तरफ दौड़ा. राजकुमार ने उसे अपना चमकता हुआ दांत दिखाया और सिपाही को भी ऐसा ही करने बोला. यह देख ड्रैगन ठिठक गया. अब राजकुमार और सैनिक ड्रैगन पर टूट पड़े. राजकुमार ने ड्रैगन को मार दिया और ड्रैगन की आत्मा में ही जादूगरनी के प्राण बसते थे, इसलिए वह भी मर गयी. सभी लोग वापस मैजिक कैसल आये. फिर राजा ने पूछा – ‘राजकुमार, अब तो बता दीजिये कि आखिर राजकुमारी ने कागज़ की पर्ची में क्या लिख भेजा था.’ राजकुमारी बोली – ‘ मैं बताती हूँ पिताजी! उसमें लिखा था. अपना चमकता दांत दिखाओ, और ड्रैगन को हराओ. ड्रैगन में जादूगरनी के प्राण बसते हैं इसलिए वह खुद ही मर जायेगी. यह बात मैंने जादूगरनी और ड्रैगन के बातचीत के दौरान सुनी थी.”
इस प्रकार कैसल में फिर से ख़ुशी की लहर दौड़ पड़ी.

For more information, please see this video:

Comments

Popular posts from this blog

तेल मालिश सही पोषण के लिए बहुत जरुरी!

देशाटन से लाभ